DOCTORS
Interactive Medical Alliance
www.doctorima.com
  • Dr Mohit Madan
  • Dr Sachin
  • Dr Namit
  • Dr Meenu
STAY HEALTHY. STAY SAFE. FOLLOW GUIDELINES BY GOVERNMENT TO PROTECT YOURSELF AND YOUR FAMILY .
  • GSVM Kanpur Incident
  • Post Date : 02 Mar 2014
  •  उत्तर प्रदेश के कानपूर में पिछले दो दिन से दबंगई, गुंडई और अराजकता का नंगा नाच खेला जा रहा है और इस बार मुलायम कुनबे के “ सच्चे और माननीय समाजवादियो” के निशाने पर आये हैं कानपूर के गणेश शंकर विद्यार्थी मेडिकल कालेज के डाक्टर....

    जी हाँ, सपा के “माननीय समर्थकों” ने कानपूर की “संवेदनशील” पुलिस बल के साथ मिलकर इस मेडिकल कालेज के जूनियर रेजिडेंट , सीनियर रेजिडेंट, प्रोफेसर स्तर के डाक्टरों को जिस बेरहमी, बेदर्दी और अमानवीयता से मारा-पीटा है उसे देखकर एक बार को मानवता भी और दंग और सन्न रह गयी होगी.....

    गुंडों के साथ मिलकर पुलिस जिस बेदर्दी से डाक्टरों को जलील करने के साथ-साथ इस बर्बरता से मार रही थी कि जैसे इन डाक्टरों से बड़े अपराधी इस राज्य और मुल्क के इतिहास में ना कभी देखे गए थे और ना सुने गए थे...

    इस मेडिकल कालेज के कुछ जूनियर रेजिडेंट डाक्टरों और सपा विधायक इरफान सोलंकी एक बहुत ही छोटी सी बहस से शुरू हुई ये वारदात बढ़ते-बढ़ते दोनों पक्षों में मार-पीट तक पहुँच गयी....इसके बाद सपा विधायक के समर्थकों ने मेडिकल कालेज के अस्पताल, हॉस्टल में जो तांडव मचाया वो अद्वितीय है...हॉस्टल में जो डाक्टर दिखा उसे ही बुरी तरह मारा गया, सारा सामान तोडा गया, हॉस्टल में मौजूद स्कूटर और मोटरसाइकिलों को तोड़ डाला गया, कमरों में जा-जाकर डाक्टरों और मेडिकल छात्रों को घसीटा गया और डंडो से बेरहमी से पीटा गया, पीठ पर लाठियां बरसा बरसा कर चमड़ी उधेड़कर पीठ पर निशान तक डाल दिए...

    इतनी बेरहमी से मारा गया कि कई डाक्टर लहू-लुहान हो गए...कई डाक्टरों की हड्डियाँ तक तोड़ दी गयी.. यहाँ तक की हॉस्टल की छतों से उन्हें नीचे फैंका गया या कूदने पर मजबूर किया गया....कुछ मेडिकल छात्र और डाक्टर इतने ज्यादा घायल हैं कि जिन्दगी देने वाले आज खुद जिन्दगी की जद्दोजहद में अस्पताल में पड़े मौत से लड़ रहे हैं..और इन सबके बाद में बहुत से छात्रों को भेड़-बकरिओं की तरह खदेड़कर थाने ले जाया गया...

    यहाँ तक की पत्रकारों को भी नहीं बख्शा गया इन गुंडों के द्वारा.....उनसे भी बदसलूकी की गयी..

    क्या यही इज्ज़त ये सपा के नेता और उत्तर प्रदेश की पुलिस वहां के डाक्टरों को देती है ? क्या ये तरीका है समाज के संभ्रांत और शिक्षित माने जाने वाले तबके के साथ व्यवहार करने का ? 

    एक बार को मान भी लिया जाये कि सारी की सारी गलती कुछ जूनियर डाक्टरों की थी तब भी उस नेता और उसके समर्थकों और पुलिस वालों को ये किसने अधिकार दिया कि वो कानून अपने हाथों में लेकर वहीँ इन्साफ करें ? क्यों नहीं कानूनी प्रक्रिया का पालन करते हुए उन पर मुकदमा दर्ज करके उन्हें वारंट लेकर गिरफ्तार किया गया और न्यायाधीश के सामने पेश किया गया...ऐसा नहीं करके कानपूर की पुलिस ने जो किया और कानून अपने हाथ में लिया उससे अदालतों के वजूद पर ही प्रश्न चिन्ह ही लग जाता है...

    इस पूरे प्रकरण में पुलिस की भूमिका बेहद ही आपतिजनक और असंवेधानिक है---- प्रश्न उठना लाजिमी है कि ये पुलिस वाले अपनी वर्दी और इस मुल्क के संविधान के वफादार हैं या चंद ताक़तवर सफेदपोशों के बंधुआ नौकर ?? क्या ये खाकी वर्दी वाले अधिकारी कानून का राज स्थापित करने वाले जनता के पहरेदार हैं या सफ़ेद खद्दर के कुरते-पायजामे की जेब में पड़े हुए खुले सिक्के हैं ? इस प्रश्न का उत्तर पुलिस को देना ही होगा कि वो जनता की रक्षक है या जनता की अधिकारों की भक्षक ?

    चिकित्सकों को जिस तरह से जघन्य अपराधिओं की तरह मार-पीट कर अपमानित किया गया और जिस तरीके उत्तर प्रदेश पुलिस ने उन्हें “ट्रीटमेंट” दिया है वो अत्यंत निदंनीय, घृणित और अमानवीय और गैर-क़ानूनी है....अगर इसी तरह से नेता और उनके गुंडे लोकल पुलिस के साथ मिलकर सड़कों और अस्पतालों में यूँ “जंगल-राज” वाले त्वरित न्याय को मूर्त-रूप देने लगे तो वो दिन दूर नहीं जब अस्पतालों में मरीजों का इलाज़ करने में डाक्टर हिचकिचाएंगे और तब शायद ही कोई डाक्टर सरकारी नौकरी करने की सोचेगा भी..

    और ऐसी हालत में बेकसूर मरीजों की अकाल मृत्यु के लिए किसे जिम्मेदार ठहराया जायेगा ये बुद्धिजीविओं के लिए एक बहस का मुद्दा बन सकता है और इसके लिउए अभी से उत्तर तलाश लिए जायें तो बेहतर होगा......

    कानपूर के लगभग 1500 सरकारी, प्राइवेट और अन्य डाक्टरों ने इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए सपा नेता इरफ़ान सोलंकी और कानपूर के SSP यशस्वी यादव को तुरंत निलंबित करने की मांग की है..उधर कानपूर के Indian Medical Association (IMA) के साथ–साथ उत्तर-प्रदेश के IMA ने भी इस घटना की कड़ी भर्त्सना करते हुए गुंडों और दबंगों पर कठोर से कठोर कार्यवाही की बात कही है...पूरे उत्तर प्रदेश के बाकि सभी सरकारी मेडिकल कालेजों के जूनियर रेजिडेंट डाक्टर कार्य-बहिष्कार का ऐलान कर चुके हैं पर इंसानियत के तकाजे के लिए इमरजेंसी को बंद नहीं किया गया है.. 

WALKATHON ON 24th November...
Posted On :
18 Nov 2019

30 Offers 30 Days DoctorIMA Privilege Card...
Posted On :
05 May 2017

Health Checkup Camp on 22.01.2017...
Posted On :
16 Jan 2017

ANNUAL ELECTIONS 2015-16 NOTIFICATION...
Posted On :
19 Jul 2015

Scientific Programme of Medicon - 2015 ...
Posted On :
06 Jan 2015

4 th SPARSH Health Mela...
Posted On :
22 Dec 2014

BLOOD DONATION CAMPS...
Posted On :
24 Jun 2014

304 A : I G Order...
Posted On :
06 Jun 2014

Court guideline for Medical Negligence Case r...
Posted On :
06 Jun 2014

Doctor Patient Relationship...
Posted On :
06 Jun 2014

Clinic at Residence : Court Order...
Posted On :
06 Jun 2014

Registration of clinics and hospital...
Posted On :
22 Apr 2015

GSVM Kanpur Incident...
Posted On :
02 Mar 2014

WE CONDEMN POLICE ATROCITIES ON INNOCENT ...
Posted On :
02 Mar 2014

4th Trans Hindon Medicon Program...
Posted On :
11 Feb 2014

3rd Sparsh Health Mela 2013...
Posted On :
17 Oct 2013

ANNUAL ELECTIONS 2013-14 NOTIFICATION...
Posted On :
30 Jul 2013

SPARSH Free OPD for underprivileged populati...
Posted On :
30 Mar 2013

Trans Hindon Medicon 17 Feb 2013 Program ...
Posted On :
15 Feb 2013

3rd TRANSHINDON MEDICON 2013...
Posted On :
26 Dec 2012

Message from President...
Posted On :
14 Sep 2012

NEW IMA TEAM 2012-13...
Posted On :
31 Aug 2012

ANNUAL ELECTIONS 2012-13 NOTIFICATION...
Posted On :
05 Jul 2012

Election Notification Meeting...
Posted On :
05 Jul 2012

Scientific Program...
Posted On :
30 May 2012

EYE DONATION MADE SUCCESSFUL WITH THE SUPPORT...
Posted On :
25 May 2012

Tuberculosis is declared a notifiable diseas...
Posted On :
15 May 2012

Invitation for CME on Lung Cancer A Panel Di...
Posted On :
11 May 2012

2nd TransHindon Medicon 2012...
Posted On :
27 Apr 2012

Find a doctor
Find Doctor by name:
Find Doctor by specialization:
  • Eye donation
  • skin
  • donate medicine
  • advertise with us
  • DTITS
  • Blood Donation
  • privilege Card